बीएसएससी स्नातक परीक्षा का पेपर लीक: छात्र यह कह रहे हैं कि पेपर रद्द होगा या नहीं उस पर चल रहा था मंथन। BSSC graduate exam paper leak: Students are saying that there was a churn on whether the paper will be canceled or not

BSSC graduate exam paper leak: Students are saying that there was a churn on whether the paper will be canceled or not : बीएसएससी स्नातक परीक्षा का पेपर लीक: छात्र यह कह रहे हैं कि पेपर रद्द होगा या नहीं उस पर चल रहा था मंथन। 

नमस्कार दोस्तों आपका स्वागत है हमारे इस आर्टिकल पेज में तो आप लोग को मालूम चले गया वह कि एक बार फिर से बिहार का पेपर लीक हो चुका है जो कि अधिकतर बार बिहार में देखा जा चुका है बिहार में एक बार फिर से पेपर लीक हो गया बीएससी रितेश नाटक की परीक्षा का सभी कैंडिडेट्स ने एग्जाम सेंटर में बैठते ही बाहर आना पड़ा क्योंकि उनको अंदर उनकी जानकारी मिली कि सोशल मीडिया पर उनका पेपर वायरल हो रहा है, इस परीक्षा में शामिल होने वाले कुल विद्यार्थी 900000 से भी ज्यादा थे यह वैकेंसी कुल 8 साल बाद आई थी इसी पर सभी छात्र-छात्राओं का गुस्सा जायज है इससे पहले 2014 में या वैकेंसी आई थी इसके पहले बीपीएससी की 67 फीट की परीक्षा भी पेपर लीक होने की वजह से रद्द करनी पड़ी थी जिस प्रकार सारे युवा परेशान हो रहे हैं।

इन्हें भी जरूर पढ़ें :- यहां से डाउनलोड करें रेलवे ग्रुप डी के सभी बोर्डों का कटऑफ।

अब बिहार में ए हमेशा से है कि परीक्षा से पहले पेपर रद्द कर दी जाती है क्योंकि इच्छा प्रश्नपत्र वायरल कर दी जाती है इसको लेकर आयोग में मंथन चल रहा है आयोग के चेयरमैन ने कहा है कि रविंद्र कुमार अपने ऑफिस के अफसरों के साथ बैठक पर कर रहे थे तो उस पर आर्थिक अपराध के एसपी सुनील कुमार भी पहुंचे हुए थे, जिस पर यह कहा गया है कि सरकार के बड़े अक्षरों से उनकी बात भी चल बे चल रही थी कि इस मामले की जांच आर्थिक अपराध कौन है इसकी पूरी पृष्ठ की जाएगी परीक्षा रद्द की जाएगी या नहीं इसका फैसला जो दूसरी परीक्षा अभी चल रही है उसकी परीक्षा खत्म होने के बाद ही तय किया जाएगा द्वितीय पाली की परीक्षा 4:15 पर खत्म होगी।

BSSC graduate exam paper leak: Students are saying that there was a churn on whether the paper will be canceled or not

BSSC graduate exam paper leak Students are saying that there was a churn on whether the paper will be canceled or not बीएसएससी स्नातक परीक्षा का पेपर लीक छात्र यह कह रहे हैं कि पेपर रद्द होगा या नहीं उस पर चल रहा था मंथन। 

इसी प्रकार शुक्रवार को एसएससी तृतीय स्नातक परीक्षा के पास शुरू होते ही इसका पेपर वायरल हो गया जो कि सोशल मीडिया के सभी न्यूज़ चैनलों में आने लगा छात्र नेता दिलीप कुमार ने यह कहा है कि भास्कर को प्रश्न पत्र केवल ने भेजे हैं साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि आज हो रही शुक्रवार की परीक्षा के साथ सभी प्रश्न पत्र की परीक्षा खत्म होने के बाद ही पता चल पाएगा। BSSC graduate exam paper leak

इस परीक्षा की पहली शिफ्ट सुबह 10:15 से लेकर 12:15 बजे तक थे इस पर सभी सोशल मीडिया के पेपर से हवाओं ने कहा है कि सभी को एक पेपर लीक 11:00 बजे मिला था, जिन्होंने 20 की जिम्मेदारी ली है उन्होंने कहा है कि हमें इसकी पेपर परीक्षा खत्म होने के बाद ही सभी कैंडिडेट्स के प्रश्न पत्र दिखाया गया था हमें यह प्रश्न पत्र एग्जाम नहीं मिला था, बी एसएससी का पेपर लीक हुआ उस पर 900000 से ज्यादा कैंडिडेट शामिल हुए थे जिस पर सभी विद्यार्थी अपना प्रदर्शन करते हुए।

परीक्षा देकर निकले सभी छात्रों ने क्या कहा जानिए

सभी परीक्षार्थी ने कहा है कि कि बिहार का जो नियम है इस प्रकार हो चुका है कि हर बार प्रश्नपत्र वायरल कर दिया जाता है जिस पर सभी विद्यार्थी का नुकसान होता है सरकार भी किसी काम के नहीं इतनी मेहनत से तैयारी करते हैं और बाहर निकले तो पता चलता है कि पेपर ही लीक हो गया।

कुछ छात्रों ने यह भी कहा है कि इतनी ठंड में हमने ट्रेन में खड़े खड़े होकर परीक्षा देने आए थे यहां कर पता चला कि पेपर लीक हो गया है गरीब का बच्चा गरीब ही रह जाएगा।

BSSC graduate exam paper leak: Students are saying that there was a churn on whether the paper will be canceled or not

इसी पर एक विद्यार्थी ने भी कहा है कि दसवीं और बारहवीं की जो परीक्षा ली जाती है उस पर केंद्र सरकार का अधिकार होता है उस पर पेपर लिख क्यों नहीं होता है बिहार में ऐसा क्यों होता है।

कुछ विद्यार्थियों ने यह भी कहा है कि हमने जो पेपर देखकर आया है और जो लीक हुआ है वह दोनों मैच होते हैं यह सभी जितने भी अधिकारी हैं उन्हीं का मिलीभगत है सब राजनीति करते हैं।

38 जिलों में है टोटल 528 केंद्र इस राज्य में

बिहार राज्य में कुल 38 जिले हैं जो इसको लेकर 528 केंद्र भी बनाए गए हैं इस पर सभी परीक्षार्थी ने कहा है 23 दिसंबर और 24 दिसंबर को होनी चाहिए करवाई इस परीक्षा के जरिए 2187 पदों को भर्ती होनी थी शुक्रवार को दो शिफ्ट में परीक्षा हो रही थी परीक्षा शुरू होने से पहले बाद में प्रश्नपत्र बाहर दिख रहा था इस पर परीक्षा लिखने की अफवाह फैला दी गई या फिर यह राजनीति भी हो सकती है।

इस बार परीक्षा में ज्यादा शक्ति बढ़ती गई थी फिर भी

यह बताया जा रहा है कि इस बार बीएससी परीक्षा में सबसे पहले जो पहले शक्ति बढ़ती जाती थी उससे ज्यादा शक्ति बढ़ती गई है जिस पर बीएससीसी कर्मचारियों ने ठंड में भी जूता की जगह चप्पल पहन कर आने को कहा था जिस पर किसी प्रकार की कोई भी चैटिंग ना हो पाए जो परीक्षार्थी जूता पहन कर आए थे उनके जूता बाहर खुलवा दिए गए थे बीएसएससी ने इस बार की परीक्षा में कलंक को लेकर भी आने की मनाई थी आयोग की तरफ से परीक्षा केंद्र पर ही कलम दिए गए थे अन्य कई ऐसे निर्देश भी दिए गए थे जिससे सभी को रोककर उनकी जांच कर सके सभी को इंतजार है कि प्रश्नपत्र बाहर दिख रहे हैं वह सही है या किसी की शरारत है।

Some Important Links Here…

You might also like